भीषण गर्मी में बाधित हुई बिजली तो नपेंगे अधिकारी

0
1193

भीषण गर्मी को देखते हुए निर्बाध ढ़ंग से बिजली आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए. जर्जर बिजली तार को हर हाल में बदलने के कार्य में तेजी लाएं. गर्मी व बरसात के दिनों में तार टूटने के कारण किसी प्रकार की अनहोनी न हो इसकी रोकथाम की व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए. अगर किसी अधिकारी की लापरवाही से बिजली आपूर्ति बाधित हुई तो उसपर ठोस कार्रवाई की जाएगी. आज समाहरणालय स्थित कांफ्रेंसिग हॉल में बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन के सीएमडी प्रत्यय अमृत ने वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से विद्युत अधिकारियों को यह निर्देश दिया.

कंपनी के सीएमडी ने अधिकारियों से इस कार्य में तेजी लाने को कहा. कॉफ्रेंसिग में उपस्थित सासाराम डिवीजन के कार्यपालक अभियंता (प्रोजेक्ट) प्रवीण कुमार ने बताया कि सीएमडी ने शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में जर्जर हो चुके तारों को बदलने का निर्देश मिला है. गर्मी के दिनों में चलने वाली तेज गर्म हवाओं के कारण तार टूटने की घटना अक्सर होती रहती है. तार टूटने के कारण खेत में लगी फसल में आगलगी व बारिश के दिनों में करंट लगने से जान-माल की क्षति होती है. कार्यपालक अभियंता ने बताया कि वीसी के माध्यम से डिवीजन में उपलब्ध संसाधनों की जानकारी के साथ-साथ आपूर्ति व्यवस्था को भी पूरी तरह से ठीक रखने का टास्क सौंपा है. कॉफ्रेंसिग के माध्यम से राजस्व वसूली की रिपोर्ट भी दी गई. शहरी क्षेत्र में जर्जर तार बदलने का कार्य किया जा रहा है. एलटी लाइन में केबल लगाया जा रहा है. जिससे तार टूटने की घटना पर विराम लगने के साथ-साथ टोका फंसा बिजली चोरी भी पूरी तरह से रूक जाती है.

सासाराम समाहरणालय स्थित कांफ्रेंसिग हॉल में उपस्थित अधिकारी

सीएमडी ने कहा कि बिजली आपूर्ति ठप रहने पर अधिकांश अधिकारी भी अपना मोबाइल बंद कर लेते हैं. जिसके कारण उपभोक्ताओं को काफी परेशानी होती है. अगर अब किसी भी विद्युत अधिकारी का मोबाइल रात में भी बंद पाया गया तो कार्रवाई निश्चित है. उन्होंने अधीक्षण अभियंता को कार्य में लापरवाह कनीय अभियंताओं की सूची सौंपने का निर्देश दिया.

Source- Jagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here