तेवर में दिखे रोहतास एसपी बोले प्रतिदिन एसपी कार्यालय में सुनी जाएगी फरियाद, कानून अपने हाथ में न लें युवा

0
2648

एक ऑफिसर, जो काबिल है। ईमानदार है। कड़क है। बात कर रहे रोहतास के नए पुलिस अधीक्षक सत्यवीर सिंह की। जो उत्तरप्रदेश के हरदोई के मूलनिवासी हैं। जिले के लोगों को इनसे काफी अपेक्षाएं हैं।

श्री सत्यवीर सिंह से जब रोहतास डिस्ट्रिक्ट ने बात की और उनके स्कूल, पढ़ाई-लिखाई के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि, उनकी प्रारंभिक शिक्षा हरदोई के सरकारी विद्यालय में हुई। पढ़ाई-लिखाई में होनहार सत्यवीर सिंह में कुछ कर गुजरने का जुनून था ही। उन्होंने आईआईटी की परीक्षा पास की, और 2004 में देश के प्रतिष्ठित संस्थान आईआईटी रुड़की से मैकेनिकल इंजीनियरिंग किए। उसके बाद ‘डीआरडीओ, मिनिस्ट्री ऑफ डिफिन्स’ में साइंटिस्ट बने। 2007-08 में हिंदुस्तान पेट्रोलियम में सेलर ऑफिसर रहे। पर आगे बढ़ने वालों के कदम यहीं नही रुकते। उन्हें लगा कि देश सेवा में ज्यादा योगदान प्रशासनिक पदों पर बैठ कर दिया जा सकता है। फिर क्या, अपनी कठिन परिश्रम और लगन के बदौलत यूपीएससी की परीक्षा पास की और 2008 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के पदाधिकारी बने। ट्रेनिंग के रूप में इनकी पहली पोस्टिंग भागलपुर के सहायक पुलिस अधीक्षक रूप में हुआ।

रोहतास एसपी सत्यवीर सिंह

नवादा सदर एसडीपीओ, सचिवालय एसडीपीओ पटना, सिटी एसपी गया, सिवान एसपी, भोजपुर एसपी, ट्रैफिक एसपी पटना, शेखपुरा एसपी, सिटी एसपी पटना, छपरा एसपी, दरभंगा एसएसपी के रूप में रहने के बाद अब उनकी पोस्टिंग रोहतास एसपी के रूप में हुआ हैं। उन्होंने कहा कि पहले तो मुझे ये जानकर बहुत खुशी हुई कि सूबे का सबसे शिक्षित जिला होने के साथ कृषि प्रधान जिला रोहतास हैं।

उन्होंने बताया कि, “जिलावासियों को पुलिस से जो अपेक्षा है उन अपेक्षाओं पर रोहतास पुलिस खरा उतरे यह मेरा प्रयास रहेगा। बिना भेदभाव सबके साथ समान व्यवहार व विधि सम्मत करवाई की जायेगी। उन्होंने कहा कि जिले में माफिया तत्वों के खिलाफ सख्त शिकंजा कसेगा। जिसकी भी मिलीभगत होगी चाहे वह कानून का रखवाला ही क्यों न हो करवाई करेंगे। किसी को कानून हाथ में लेकर गलत करने का अधिकार नहीं हैं। सड़क जाम व वबाल करने वालों पर पुलिस सख्त होगी और उनके विरुद्ध कानूनी करवाई की जाएगी।”

पुलिस-पब्लिक फ्रेंडशिप के सवाल के जबाब में उन्होंने कहा कि, हमारी कोशिश होगी कि सभी को त्वरित और बिना भेदभाव के न्याय मिले। पुलिस सबके लिए है। कानून के हिसाब से जो काम नहीं करेंगे उनके विरुद्ध करवाई होगी। चाहे वह कोई भी हो। आम जनता पुलिस पर भरोसा करें। जनता की शिकायत को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही। उन्होंने कहा कि, एसपी के समक्ष शिकायत व फरियाद लगाने के लिए अब एक सप्ताह इंतजार नहीं करना पड़ेगा। मुख्यालय में उपस्थित रहने पर वे जिले की जनता से नियमित संवाद करेंगे। उनकी शिकायत को सुना जाएगा और निर्दोषों को न्याय मिलेगा। इससे पुलिस-पब्लिक फ्रेंडशिप भी बनी रहेगी।

रोहतास एसपी सत्यवीर सिंह

उन्होंने कहा कि, “रोहतास जिला अपने आप मे बेहद खास है। जिला ऐतिहासिक धरोहरों के अलावा प्राकृतिक संपदाओं को संजोय हैं। यहां के ऐतिहासिक स्थलों को भी पुलिस-पब्लिक फ्रेंडशिप की मदद से बढ़ावा दिया जाएगा। ऐतिहासिक स्थल घूमने वाले पर्यटकों को पुलिस हर संभव मदद करेगी।

जिले के ट्रैफिक व्यवस्था के सवाल पर उन्होंने कहा कि, वे यहां के ट्रैफिक व्यवस्था से अवगत हो रहे है। उन्होंने बताया कि ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर एसडीओ एवं एसडीपीओ को कई निर्देश दिए गए हैं।

युवाओं के सवाल पर श्री सिंह ने कहा कि, “गैर-कानूनी गतिविधियों की वजह से युवाओं का नाम पुलिस रिकार्ड में आ जाता हैं, इसलिए युवा गैर-कानूनी काम करने से बचे और कानून अपने हाथ में ना ले। युवा अपने क्षेत्र में मन लगाकर कार्य करें। समाज व देश को विकास के क्षेत्र में आगे बढ़ाने में पुलिस के अतिरिक्त युवाओं का बहुत बड़ा योगदान रहता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में साइबर क्राइम बहुत बड़ी चुनौती है। इससे निपटने के लिए पुलिस के सहयोग के लिए युवा वर्ग भी अपना योगदान दे सकते हैं। युवा इंटरनेट व मोबाइल का सही कार्य के लिए इस्तेमाल करें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here