रोहतास के लिए नौ जगह नर्सरी में पौधा तैयार करेगा वन विभाग, पीपीसीएल अमझोर के पास बनेगा मेगा पौधशाला

0
1172
फाइल फोटो: तुतला भवानी स्थित जगह जहां वन विभाग द्वारा पौधाशाला बनाया जा रहा

जिले में जल-जीवन हरियाली मिशन को धरातल पर उतारने की कवायद शुरू है. अगले साल लगने वाले 2.51 करोड़ पौधे के लिए वन विभाग रोहतास जिले में तीन और नये पौधशाला(नर्सरी) स्थापित करेगा. जिसमें जिले के रोहतास प्रखंड के अमझोर स्थित पीपीसीएल के पास मेगा पौधशाला की स्थापना की जाएगी. जिसका क्षेत्रफल 15 हेक्टेयर होगा.

अब जिले में नौ पौधशाला में पौधे उगाए जाएंगे. इसे लेकर शनिवार को वन विभाग ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आयोजित की गई. जिसमें तैयारियों की समीक्षा की गई. जिले से जिला वन प्रमंडल पदाधिकारी प्रद्युम्न गौरव व सहायक वन संरक्षक गोपाल ओझा शामिल थे. जिला वन प्रमंडल पदाधिकारी ने बताया कि अब जिले में 31 हेक्टर क्षेत्रफल में पौधशाला लगाया जाएगा. पहले सिर्फ छह हेक्टेयर क्षेत्र में नर्सरी की व्यवस्था थी. नए स्थापित होने वाले पौधशाला में तुतला भवानी धाम व गीताघाट आश्रम के पास पांच-पांच हेक्टेयर तथा पीपीसीएल अमझोर के पास 15 हेक्टेयर क्षेत्र शामिल है. साल में 21 लाख पौधे उगाए जाएंगे.

वन विभाग के विडियो कान्फ्रेसिंग में उपस्थित रोहतास डीएफओ प्रद्युमन गौरव एवं एसीएफ गोपाल झा

उन्होंने कहा कि प्रत्येक पंचायत में 22-22 सौ पौधे मिशन के तहत लगाए जाएंगे. इसके अलावा सड़क व रेलवे लाइन के किनारे के साथ-साथ दफ्तरों व शिक्षण संस्थान परिसर में भी पौधे लगाए जाएंगे. राज्य में जल-जीव-हरियाली अभियान के तहत पौधारोपण का कार्य अधिक से अधिक जगहों पर कराना है. जिसके तहत काफी संख्या में पौधों की आवश्यकता होगी. उन्होंने कहा कि पौधों की कमी को दूर करने के लिए पौधशालाओं का निर्माण कराया जा रहा है. वन अधिकारियों से हर हाल में पौधों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here