कैमूर पहाड़ी स्थित पर्यटक स्थलों पर पॉलीथिन ले जाना प्रतिबंध, ताराचंडी के पास बनेगा चेकपोस्ट

0
252

रोहतास जिले के कैमर पहाड़ी पर सेंचुरी क्षेत्र को बचाने के लिए वन विभाग ने विशेष तैयारी शुरू की है. वन विभाग मां ताराचंडी धाम पर चेकपोस्ट बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. जहां बाद में वन विभाग के चेकपोस्ट के साथ भविष्य में पुलिस पिकेट बनाने की तैयारी भी है. हालांकि पुलिस पिकेट बनने में अभी समय लगेगा. लेकिन सावन मेला खत्म होने के बाद कैमूर पहाड़ी पर लगने वाले जमावड़ा को लेकर वन विभाग धाम के साथ पहाड़ पर मेले को लेकर पांच-पांच सैप जवानों को तैनात किया जाएगा.

मांझर कुंड, धुंआ कुंड, मोती कुंड, सीता कुंड व हनुमान धारा सहित अन्य पर्यटक स्थलों पर सावन के समाप्ति पर लोगों की भारी भीड़ जुटती है. सावन महिना खत्म होने के बाद पहले रविवार को वहां पर्यटकों का सैलाब उमड़ता है. वहीं सावन महिने के बाद पहले शनिवार को सिख समुदाय के लोग विशेष आराधना के लिए कैमूर पहाड़ी पर पहुंचते हैं. कैमूर पहाड़ी पर सावन के बाद लगने वाले मेला में भारी संख्या में पिकनिक मनाने के लिए वहां पहुंचते हैं. जहां लोगों द्वारा पिकनिक मनाने केदौरान प्लास्टिक व पॉलीथिन का प्रयोग धड़ल्ले से किया जाता है. वन विभाग ने इसपर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है.

फाइल फोटो: कैमूर पहाड़ी पर स्थित मांझर कुंड

ताराचंडी धाम पर ही कैमूर पहाड़ी जाने वाले लोगों की पूरी जांच-पड़ताल की जाएगी. जांच के दौरान प्लास्टिक-पॉलीथिन को धाम पर ही रोक दिया जाएगा. थर्मोकोल के बने थाली-प्लेट ले जाने पर भी प्रतिबंध रहेगा. हालांकि वन विभाग ने पहाड़ पर जाने वाले पर्यटकों की सुविधा के लिए जूट व कपड़ा के झोले सहित अन्य वैकल्पिक उपाय किया है. सेंचुरी एरिया में स्वच्छता अभियान को लेकर वन विभाग ने वृहद योजना बनायी है. जिसमें वन क्षेत्र को सुरक्षित व स्वच्छ रखने के लिए अभियान चलाकर पर्यटक स्थलों की निगरानी की जाएगी. वन विभाग ने इसके लिए व्यापक योजना बनायी है.

फाइल फोटो: मांझर कुंड पर पिकनिक मनाते लोग

प्रकति के बीच कैमूर पहाड़ी पर स्थित पर्यटक केंद्रों की सुरक्षा के लिए वन विभाग पांच-पांच जवानों की टीम बनाकर सुरक्षा करेगी. लोगों को गंदगी नहीं करने व स्वच्छता के प्रति जागरूकभी करेगी. शराबबंदी के बावजूद पहाड़ पर लोगों द्वारा शराब के प्रयोग करने की शिकायतें प्रायः मिलती रही है. जिसे देखते हुए वन विभाग ने जवानों को शराब को लेकर स्पष्ट निर्देश दिया है, देसी-विदेशी शराब या महुआ शराब की बिक्री करने वालों लोगों पर विभाग की पैनी निगाहें बनी हुई हैं. सेंचुरी एरिया में शराब की बिक्री व सेवन पर प्रतिबंध को लेकर विभाग ने सर्कुलर भी जारी किया है.

फाइल फोटो: मांझर कुंड पर पिकनिक मनाते लोग

रोहतास वन प्रमंडल पदाधिकारी प्रद्युमन गौरव ने कैमूर पहाड़ी स्थित पर्यटक स्थलों को स्वच्छ रखने के लिए वन विभाग ने योजना बनायी है. ताराचंडी धाम पर वन विभाग के पुलिस पिकेट बन रही है. पहाड़ जाने वाले लोगों की जांच-पड़ताल कर ही भेजा जायेगा. प्लास्टिक ले जाने पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा. उन्होंने कहा कि निरीक्षण के क्रम में पाया गया कि पूरे क्षेत्र में पर्यटकों के द्वारा प्लास्टिक, पॉलीथिन, थर्मोकोल के समान प्रयोग कर फेंक दिए गए हैं. जिससे क्षेत्र के पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here