डेहरी का बीएमपी-2 बना बिहार का पहला ऑटोमेटिक रेंज, अखिल भारतीय पुलिस शूटिंग प्रतियोगिता में जुटे हैं पूरे देश से निशानेबाज

0
982

बिहार में पहली बार आयोजित डेहरी-ऑन-सोन के बीएमपी-2 में पांच दिवसीय अखिल भारतीय पुलिस शूटिंग प्रतियोगिता सोमवार से शुरू है. शूटिंग प्रतियोगिता की खास बात यह है कि बिहार में बीएमपी-2 डेहरी पहला बीएमपी है जहां ऑटोमेटिक शॉर्ट रेंज और अंग्रेज की शुरुआत की गई है. इस प्रतियोगिता में देश के 21 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों की पुलिस के अलावा आठ केंद्रीय बलों की कुल 30 टीमें भाग ली हैं.

डेहरी के बीएमपी-2 में 10 फरवरी से शुरू हो चुका 20वां अखिल भारतीय शूटिंग 15 फरवरी तक चलेगा. इस प्रतियोगिता में देशभर से आये हुए प्रतिभागियों को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो, इसका ख्याल रखा जा रहा है. जिसके लिए अलग-अलग समितियां है. बीएमपी परिसर में शाम में सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन हो रहा है. जिसमें शूटिंग प्रतियोगिता में शामिल होने वाले प्रतिभागी अपनी प्रस्तुति दे रहे हैं. वहीं बीएमपी परिसर में सामूहिक शौचालय, पेयजल, भोजनालय, रसोईघर, मेडिकल पंडाल, पूछताछ केंद्र समेत अन्य कई प्रकार की व्यवस्था की गई है. पूरा परिसर दूधिया रोशनी से जगमग है.

इस शूटिंग प्रतियोगिता में कुल 21 राज्यों से 30 टीमें हिस्सा ले रही हैं. केंद्रीय सशस्त्र बल एवं राज्य पुलिस बलों की तकनीकी एवं व्यावसायिक दक्षता को परखने के लिए प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है, जिसमें 16 महिला प्रतिभागियों समेत करीब 754 प्रतिभागी अपने बल एवं राज्य पुलिस का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. जिनमें बिहार के 26, झारखंड से 22, तेलंगाना से 24, पंजाब से 23, झारखंड से 22, उत्तर प्रदेश से 27, आरपीएफ से 24, केरल से 33, तमिलनाडु से 27, राजस्थान से 29, पश्चिम बंगाल से 24, आसाम से 20, कर्नाटक से 23, आंध्र प्रदेश से 30, सीमा सुरक्षा बल से 29, छत्तीसगढ़ से 18, बीएसएफ से 36, सीआईएसएफ से 19, सीआरपीएफ से 30, गुजरात से 17, हिमाचल प्रदेश से 9, आइटीबीपी से 34, जम्मू कश्मीर से 23, मध्य प्रदेश से 28, महाराष्ट्र से 30, मणिपुर से 17, एनएसजी दिल्ली की 30, उड़ीसा से 38, असम राइफल्स से 32, चंडीगढ़ से 12 तथा सीआरपीएफ से 30 प्रतिभागी भाग लिए है.

प्रतियोगिता हेतु बीएमपी परिसर में दो अलग-अलग फायरिंग रेंज बनाए गए हैं, जिसमें एक लॉन्ग रेंज और दूसरा शॉर्ट रेंज है. वह ऑटोमेटिक सिस्टम से लैस है. प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के जज्बे को बरकरार रखने के उद्देश्य से शूटिंग रेंज के दीवार पर मोटे अक्षरों में एकं नेत्रम्, एकमेव लक्ष्यम् अंकित है. मतलब साफ है कि निशाना चुके नहीं और प्रत्येक गोली निशाने पर लगे.

प्रतिभागी इंसास राइफल, एकेएम सहित दूसरे बड़े हथियार सहित छोटे हथियारों कार्बाइन, पिस्टल, एमपी 5 सहित दूसरे प्रैक्टिस के हथियारों से शूटिंग कर रहे हैं. लॉन्ग रेंज में 100, 200, 300 गज एवं 300 मीटर की दूरी से निशाना साधा जा रहा है.

बता दें कि वर्ष 1953 में पहला राइफल शूटिंग प्रतियोगिता नागपुर में हुआ था, जिसके बाद से बिहार में किसी तरह का कोई खेल प्रतियोगिता नहीं हो रहा था. 2012 से खेल प्रतियोगिता का आयोजन हुआ, और इस वर्ष पहली बार बिहार में अखिल भारतीय पुलिस शूटिंग प्रतियोगिता आयोजित की गई है.

वहीं सोमवार से शुरू हुई 20वीं अखिल भारतीय शूटिंग प्रतियोगिता समारोह के मुख्य अतिथि के तौर पर पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय थे. समारोह में उद्घाटन के दौरान महानिदेशक प्रशिक्षण आलोक राज, पुलिस महानिदेशक बिहार सैन्य पुलिस एस.के. सिंघल, उपमहानिदेशक-अपराध जांच विभाग विनय कुमार, उपमहानिदेशक सुशिल खोपड़े, उपमहानिदेशक अमरेन्द्र कुमार अम्बेडकर, उपमहानिदेशक जितेंद्र सिंह गंगवार, पुलिस महानिरीक्षक डॉ.कमल किशोर, पुलिस महानिरीक्षक अमित कुमार जैन, पुलिस उपमहानिरीक्षक- आतंकवाद निरोधक दस्ता विकास वैभव, उपमहानिरीक्षक- पुलिस प्रशिक्षण केंद्र परवेज अख्तर, पुलिस उपमहानिरीक्षक शाहाबाद पी.कन्नन, रोहतास पुलिस अधीक्षक सह बिहार सैन्य पुलिस-2 समादेष्टा सत्यवीर सिंह सहित आईपीएस राजेश त्रिपाठी, उमाशंकर प्रसाद, गरिमा मलिक, अनसूया रण साहू एवं रोहतास जिला अधिकारी पंकज दीक्षित सहित पुलिस के कई कनीय एवं वरीय अधिकारी मौजूद थे.

जानिए ऑटोमेटिक रेंज के बारे में:रोहतास एसपी सह बीएमपी-2 समादेष्टा सत्यवीर सिंह के अनुसार पूर्व में फायरिंग के दौरान बट पर हाथों से शॉर्ट रेंज और लॉन्ग रेंज बनाकर रखा जाता था. जहां घड़ी की सुई के अनुसार फायरिंग किया जाता था. किंतु बिहार में पहली बार डेहरी स्थित बीएमपी-2 में ऑटोमेटिक रेंज की शुरुआत की गई है. इसके तहत अब इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम पर आधारित ऑटोमेटिक सॉर्ट रेंज और लॉन्ग रेंज बना है. शूटिंग के दौरान समय अवधि के साथ रेंज काम करेगा, जिसमें सब कुछ कंप्यूटराइज सिस्टम की तरह है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here